यूँ ही

सामान्य

भींगी गौरय्या की नम आँख में मैंने हरे पेड़ की परछाई देखी आस्वस्त होना चाहती है गौरय्या उसे डराओ मत … वो आज खुश है

हरे पेड़ घोंसलों से भरे हों ….और चिड़िया का बेबी रेन रेन गो अवे गाने लगे कितना अच्छा हो वो तितली की ऊँगली पकड़े इस्कूल जाने लगे … 😊😊😊😊😊😊

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s